संदेशो से सजी संजा

संजा के जरिये संस्कृति के संरक्षण और पर्यावरण को सहेजने का अनूठा प्रयास संस्था मालवमंथन द्वारा किया गया। बुधवार को मल्हारगंज क्षेत्र के सार्वजनिक उद्यान में संजा संध्या प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की जानकारी देते हुए संस्था के स्वप्निल व्यास ने बताया कि विलुप्त होती संजा संस्कृति के संरक्षण हेतु संस्था द्वारा इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें स्थानीय महिलाओं और बालिकाओं द्वारा पर्यावरण संरक्षण , स्वच्छता ,मतदाता जागरूकता,संदेशों से प्रेरित आकर्षक संजा बनाई गई।
स्त्री और प्रकृति साथ साथ स्त्री और प्रकति दोनों का समान समाज के लिए जरूरी है। इस सन्देश को भी नन्ही बालिकाओ ने अपनी संजा में जगह दी साथ ही कन्या भ्रूण हत्या रोकने की अपील भी गोबर और फूलों से सजी संझा के जरिये की गई। इसके साथ पारंपरिक संजा गीत गाकर आरती की गई सुंदर संझा बंनाने वाली बालिकाओ को कार्यक्रम में पुरस्कार भी दिया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ सोनाली नरगुन्दे,श्रीमती माला सिह ठाकुर थी वही अध्यक्षता सुश्री नम्रता सावंत विशेष अतिथि श्री प्रवेश शर्मा, नमिता दुबे थी कार्यक्रम सयोजन एवं संचालन ग्रीष्मा त्रिवेदी ने किया आभार प्रो. वंदना जोशी ने माना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *